Draupadi Murmu Biography

द्रौपदी मुर्मू, एक आदिवासी महिला नेता, राष्ट्रपति पद की दौड़ के लिए मोदी सरकार की पहली पसंद हैं।

वह पूर्व केंद्रीय मंत्री, यशवंत सिन्हा के खिलाफ हैं, जो जुलाई के चुनावों के लिए संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार हैं।

निर्वाचित होने पर, 64 वर्षीय भारत की राष्ट्रपति बनने वाली पहली आदिवासी महिला होंगी।

द्रौपदी का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा के मयूरभंज जिले के बैदापोसी गांव में हुआ था।

उनके पिता का नाम बिरंची नारायण टुडू है। वह संथाल परिवार से ताल्लुक रखती हैं, जो एक आदिवासी जातीय समूह है।

द्रौपदी की शादी श्याम चरण मुर्मु से हुई थी जो अब इस दुनिया में नहीं है। उनके दो बेटे थे

जो अब जीवित नहीं है और एक बेटी है जिसका नाम इतिश्री मुर्मु है जिसके सहारे वह अपनी जिंदगी राहत के साथ गुजार रही है।

उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा ओडिशा निजी स्कूल से प्राप्त की

उसके बाद उन्होंने रमा देवी महिला कॉलेज, भुवनेश्वर, ओडिशा में दाखिला ले लिया जहाँ से उन्होंने कला में ग्रेजुशन की डिग्री प्राप्त की।

उन्होंने रायरंगपुर में श्री अरबिंदो इंटीग्रल एजुकेशन सेंटर में एक सहायक शिक्षक के रूप में अपना करियर शुरू किया।